डीसीपी नरेश डोगरा पर हमला करने वालों पर तुरंत हो एफ आई आर दर्ज : दीपक कंबोज।

 

अखंड समाचार, जालंधर ( सौरव शर्मा ) : शिव सेना पंजाब राष्ट्रीय प्रभारी दीपक कंबोज ने एक प्रेस बयान जारी करते हुए कहा है कि पंजाब में आम आदमी पार्टी पुलिस मुलाजिमों के साथ और जनता के साथ बहुत गलत कर रही है। पंजाब में कई सरकारें आई और कई गई किसी ने ऐसा नहीं किया था। दीपक कंबोज ने कहा है कि डीसीपी नरेश डोगरा बहुत अच्छे ऑफिसर हैं जो सरकार ने कल उनके ऊपर गलत एफ आई आर की है उसको तुरंत कैंसिल किया जाए। और दीपक कंबोज ने यह भी कहा है कि जिन लोगों ने पुलिस के वर्दी पर हाथ डाला है और पुलिस मुलाजिमों को गाली गलौज की है उन के ऊपर जल्द से जल्द एफ आई आर दर्ज की जाए नहीं तो शिवसेना पंजाब जालंधर में जोर-जोर से आम आदमी पार्टी के खिलाफ बड़े पदों पर प्रदर्शन करने के लिए मजबूर हो जाएगी क्योंकि नरेश डोगरा डीसीपी कभी किसी को गाली नहीं निकालते यह तो भगवान को मानने वाले हैं। दीपक कंबोज ने यह भी कहा है कि पंजाब के मुख्यमंत्री को चाहिए कि पुलिस प्रशासन को पूरा-पूरा अधिकार देना चाहिए। जो पुलिस मुलाजिमों को गाली दे और उनकी वर्दी पर हाथ डाले उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई तुरंत की जाए। दीपक कंबोज ने कहा है कि जब से आम आदमी पंजाब में आई है पंजाब के हालत बहुत ज्यादा खराब हो चुके हैं। इसलिए हम देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मांग करते हैं कि पंजाब में राष्ट्रपति राज जल्द से जल्द लागू किया जाए। क्योंकि आम आदमी पार्टी पंजाब में जानबूझकर जनता को परेशान कर रही है और अब तो पुलिस मुलाजिमों पर भी जानबूझकर उनके ऊपर एफ आई आर दर्ज कर रही है।क्योंकि पंजाब में कई सरकारें आई और कई गई किसी ने ऐसा नहीं किया था। इन्होंने तो पंजाब का बहुत बुरा हाल किया हुआ है। दीपक कंबोज ने कहा है कि अब तो इन लोगों ने पुलिस की वर्दी पर हाथ डालना शुरू कर दिया है। इसीलिए दीपक कंबोज ने कहा है कि जिन्होंने नरेश डोगरा के ऊपर हाथ डाला है और गाली गलौज की है उनके ऊपर तुरंत एफआईआर कर उनको जेल में बंद किया जाए। क्योंकि कानून सभी के लिए एक है यदि नरेश डोगरा पर हाथ उठाने वालो पर एफआईआर ना हुई तो शिव सेना पंजाब प्रदर्शन करने के लिए मजबूर हो सकती है। फिर इसके जिम्मेदारी पंजाब सरकार की होगी और पुलिस प्रशासन की होगी।

 

Vinkmag ad

Read Previous

पटाखा विक्रेता पहुंचे मेयर के पास क्या की मांग देखें

Read Next

डीसीपी नरेश डोगरा और विधायक रमन अरोड़ा के आपसी विवाद में हुआ समझौता।